मै नहीं हूं वो

तेरे बिन नशे में रहूं ऐसा जाम नहीं हूं, तेरे कहने पे हो जाऊं मैं वो काम नहीं हूं
तू बोले और सब को सुन जाए ऐसा मैं नाम नहीं हूं,

सुन! तू खोले वो किताब नहीं हूं, तेरे होने से जल जाऊ मैं वो पाक नहीं हूं
तू भूल जाए मुझे मै वो याद नहीं हूं, पहुंच पाए तू मै वो मुकाम नहीं हूं

रास्ता देख भागने से नहीं होगा, करके दिखा ऐसे ताड़ने से नहीं होगा
तेरे कहने से बन जाऊ मैं वो गुलाम नहीं हूं

भड़काएं मुझे चिंगारी से वो आग नहीं हूं, तेरे बोलने पर चुप रहे ऐसी ज़ुबान नहीं हूं

देख! तू ज़रा करके दिखा, जहां खड़ा है वहां मर के दिखा,
क्योंकि तेरे मरने पे मर जाऊं इतनी आम नहीं हूं।

4 comments

Thanks